logo

बी एस एन एल एम्पलाईज यूनियन
मध्यप्रदेश परिमंडल


वेज रिवीजन को लेकर कुछ स्पष्टीकरण सवाल जवाब के रूप में...

भ्रामक प्रचार से नही, वरन, प्रभावशाली और निरंतर संघर्ष से ही वेज रिवीजन का निराकरण संभव है...

NFTE ने कल अपनी वेबसाइट के माध्यम से कर्मचारियों को दिग्भ्रमित करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा है कि शायद कैबिनेट ने DOT को बीएसएनएल कर्मियों के वेतन पुनरिक्षण ( वेज रिवीजन ) के अनुमोदन हेतु अधिकार दिए हैं। NFTE कर्मचारियों को बेवकूफ बनाने के प्रयास कर रही है। क्योंकि 12.7.2017 को सम्पन्न सेक्रेटरीज की मीटिंग में DOT को BSNL के लिए तृतीय PRC के एफोरडीबिलिटी क्लॉज़ से छूट देने की मांग करनी चाहिए थी, जो उन्होंने नही की। इस बात से स्पष्ट है कि DOT स्वयं BSNL कर्मियों के वेज रिवीजन के पक्ष में नही है। जब DOT ने BSNL कर्मियों को वेज रिवीजन देने की मांग ही नही की है तो NFTE यह कल्पना क्यों कर रही है कि कैबिनेट ने DOT को BSNL कर्मियों के वेज रिवीजन के अधिकार प्रदत्त किए होंगे। यह अफवाह NFTE केवल हड़ताल में शामिल नही होने से कर्मचारियों के रोष से बचने के लिए फैला रही है।

हमें सभी कर्मचारियों को यह बताना होगा कि केवल प्रभावशाली और निरंतर संघर्ष से ही हमारे वेज रिवीजन का निराकरण संभव है।

ये है हकीकत...

वाट्सएप पर एक मेसेज प्रसारित किया जा रहा है जिसमें यह बताया जा रहा है कि NFTE द्वारा 4 जुलाई 2017 को संयुक्त रूप से हड़ताल का आग्रह किया गया था जिस पर GS, BSNLEU की ओर से अभी तक कोई  प्रतिक्रिया नही दी गई  है।

यह पूर्णत: असत्य है। दरअसल 4 जुलाई 2017 को GS, BSNLEU कॉम पी अभिमन्यु TEPU के कार्यालय में कॉमरेड सुबुरमन, GS TEPU से मिलने और उन्हें हड़ताल में शामिल होने हेतु सहमत कराने गए थे।आश्चर्यजनक रूप से कॉम सी सिंह, GS NFTE व कॉम पी एन पेरुमल, अध्यक्ष , SEWA BSNLउस समय वहाँ उपस्थित थे।

GS BSNLEU कॉम पी अभिमन्यु ने सभी से 27 जुलाई की हड़ताल में शामिल होने का अनुरोध किया। लंबी वार्ता के पश्चात उनके फोरम की ओर से कॉमरेड सुबुरमन ने जवाब दिया । उन्होंने कहा कि उनके लिए 27 जुलाई की हड़ताल में शामिल होना संभव नहीं होगा, अभी हड़ताल पर जाना असामयिक होगा जब प्रबंधन व डॉट दोनों का रुख सकारात्मक हैं ।

साथ ही उन्होने यह भी कहा कि वे अनिश्चितकालीन हड़ताल के लिए तैयार हैं । यह घटनाक्रम हुआ था 4 जुलाई 2017 को TEPU के कार्यालय में।

एक तरफ 27 जुलाई 2017 की हड़ताल में NFTE का इस आधार पर शामिल होने से इनकार करना कि प्रबंधन और डॉट दोनो का रुख वेज रिवीजन के प्रति सकारात्मक है और दूसरी ओर अनिश्चितकालीन हड़ताल की बात करना , दोनो विरोधाभासी है। धूर्ततापूर्ण बयान दे देकर ये कर्मचारियों को एनकेन प्रकारेण हड़ताल से विमुख करना चाह रहे हैं।

कृपया सतर्क रहें । कर्मचारियों को भ्रमित करने के लिए NFTE के मित्र अब इस तरह की कई कहानियाँ गढ़ना शुरू कर चुके हैं और प्रचारित भी कर रहें हैं।

माना कि कुछ संगठन हड़ताल में शामिल नही है, ठीक है। लेकिन कर्मचारी हित की दुहाई देने वाले ये संगठन तर्कहीन और अस्तरीय बयानबाजी कर हड़ताल को विफल करने की कोशिश कर रहें हैं। यह आश्चर्यजनक है कि बजाय संघर्ष में सहयोग कर एकजुटता प्रदर्शित करने के, ये संगठन कर्मचारियों को दिग्भ्रमित कर रहे हैं। हालांकि सत्य से सभी वाकिफ हैं, और इसलिए 27 जुलाई को हड़ताल होगी और जबरदस्त रूप से सफल होगी।

हमारे सभी पदाधिकारियों एवं सहयोगियों से अनुरोध है कि नकारात्मकता को नज़रअंदाज करें। हमारा लक्ष्य 27 जुलाई की हड़ताल है। हड़ताल की सफलता हेतु हमारे पदाधिकारी उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर ध्यान केंद्रित करें।

हमारी हड़ताल सफल होगी और नि:संदेह हम हमारे लक्ष्य को हासिल भी करेंगे...

एक दिवसीय हड़ताल ऐतिहासिक रूप से सफल होगी

हमारे जिला सचिवों से प्राप्त रिपोर्ट अनुसार लगभग सभी एसएसए में 27.7.2017 की हड़ताल की सफलता के लिए की जा रही संयुक्त मीटिंग्स में कर्मचारी अधिकारी उत्साह के साथ शिरकत कर रहे हैं।

एक यूनियन द्वारा हड़ताल के विरोध में किए जा रहे नकारात्मक प्रचार को सभी ने नकार दिया है। सभी कर्मचारी अधिकारी जानते हैं कि संघर्ष के बगैर तृतीय PRC का लाभ मिलना संभव नही है। अतः जो यूनियन्स एसोसिएशन्स हड़ताल में शामिल नही है उनके माननीय सदस्यों से भी हमारा आग्रह है कि हड़ताल में शामिल हो कर एकता प्रदर्शित करें।

आप जानते हैं कि तृतीय PRC की अनुशंसाओं में शामिल " एफोरडीबिलिटी क्लॉज़ " के चलते हमें वेज रिवीजन नही मिलेगा। हमारा पिछला अनुभव दर्शाता है कि विगत वेज रिवीजन पश्चात पेंशन रिवीजन हेतु भी हमें काफी संघर्ष करना पड़ा था। हमारे डायरेक्ट रिक्रूट साथियों को भी सुपर एन्युएशन बेनिफिट आसानी से प्रबंधन दे देगा ऐसा संभव नही है। धरना प्रदर्शन के लिए भी " नो वर्क नो पे " के आदेश कॉर्पोरेट ऑफिस जारी करे तो हम हाथ पर हाथ धरे कैसे बैठे रह सकते हैं ? ऐसी स्थिति में संघर्ष अवश्यम्भावी है।

हमारे सभी साथी इस बात से वाकिफ हैं कि हड़ताल करने से हमारा वेतन जरूर कटेगा। एक दो दिन के वेतन की आहुति से हमारे साथी तो विचलित नही है किंतु संघर्षों से हमेशा पलायन करने की आदि एक यूनियन के कतिपय नेता हड़ताल का वेतन कटने का राग अलाप रहे हैं। खैर, उनकी भी गलती नही है, संघर्ष से हमेशा भागना उनके ट्रेड यूनियन चरित्र में ही शामिल है। हम आश्वस्त हैं कि उनके विलाप से हमारे संघर्षशील साथी किंचित भी प्रभावित नही होंगे और सभी कर्मचारियों अधिकारियों की हड़ताल में उत्साहपूर्ण सहभागिता से हमारी हड़ताल को विफल करने के उक्त यूनियन के प्रयास भी सफल नही होंगे।

हमारी हड़ताल शतप्रतिशत रूप से सफल होगी। इस सफलता का दबाव प्रबंधन और सरकार पर भी होगा और हमारे लक्ष्य को हासिल करने में हम और आप जरूर कामयाब होंगे, विश्वास है हमें।

SNEA ZINDABAD
AIGETOA ZINDABAD
FNTO ZINDABAD
SNATTA ZINDABAD
BSNL MS ZINDABAD
BSNL ATM ZINDABAD
BSNLOA ZINDABAD
BSNLEU ZINDABAD

27.7.2017 को हड़ताल 00.00 hrs पर शुरू होगी...

27.7.2017 को होने वाली एक दिवसीय हड़ताल 27.7.2017 को 00.00 hrs पर शुरू होगी और 28.7.2017 को 00.00 hrs पर खत्म होगी।

कृपया सभी को सूचित करें...

हड़ताल की सफलता के लिए अग्रिम बधाई...

27 जुलाई 2017 की हड़ताल में कॉन्ट्रैक्ट वर्कर्स भी शामिल होंगे...

27 जुलाई 2017 की हड़ताल के समर्थन में CCWF की केंद्रीय कार्यकारिणी ने हड़ताल में जाने का निर्णय लिया है । जिला सचिवों से आग्रह है कि इस निर्णय से कॉन्ट्रैक्ट वर्कर्स को अवगत करवाएं एवं उन्हें हड़ताल हड़ताल में शामिल होने का अनुरोध करे।

सीएचक्यू का हिंदी सर्क्यूलर...

सीएचक्यू द्वारा जारी हिंदी सर्क्यूलर में 27 जुलाई 2017 की हड़ताल एवं हैदराबाद में सम्पन्न महिला कन्वेंशन पर विस्तृत जानकारी का समावेश है... इस सर्क्यूलर को नोटिस बोर्ड पर लगाया जा सकता है।

डाऊनलोड कीजिए

विस्तारित सीईसी की सीएचक्यू ने वेबसाइट पर विस्तृत समीक्षा कर सीईसी को "ए माइटी शो ऑफ यूनिटी एंड स्ट्रेंथ" निरूपित किया.... बधाई!

FNTO का हड़ताल में शामिल होने का निर्णय

27.7.2017 को वेज रिवीजन व अन्य डिमांड्स को लेकर हो रही हड़ताल को सफल बनाने के प्रयासों को अतिरिक्त ऊर्जा मिली है। FNTO की 7 एवं 8 जुलाई 2017 को पटना में सम्पन्न सीईसी में दृढ़ता के साथ हड़ताल में शामिल होने का निर्णय लिया गया है। FNTO के सही वक्त पर लिए गए सही निर्णय का बीएसएनल ईयू तहे दिल से स्वागत करती है। आगामी दिनों में BSNLEU और FNTO पूर्ण सामंजस्य के साथ कर्मचारियों के हित में कार्य करेगी।

बधाई और शुक्रिया FNTO...

जीएमटीडी भोपाल द्वारा नियम विरुद्ध स्थानांतरण के विरोध में परिमंडल सचिव द्वारा तत्काल विरोध पत्र प्रेषित

जीएमटीडी भोपाल द्वारा उनके अधीन कार्यरत 4 महिला ATT के सर्किल ऑफिस भोपाल हेतु 13.7.2017 को स्थानांतरण आदेश जारी किए गए हैं। परिमंडल सचिव कॉम प्रकाश शर्मा ने इसका तत्काल संज्ञान लेते हुए मुख्य महाप्रबंधक को पत्र लिख कर विरोध दर्ज कराते हुए आदेश निरस्त करने की मांग की है। परिमंडल सचिव ने परिमंडल प्रबंधन से जानकारी मांगी है कि यूनियन को यह बताया जाए कि क्या एसएसए को उनके अधीनस्थ कर्मियों के स्थानांतरण अन्य एसएसए में करने के अधिकार दे दिए गए हैं ? यदि नही , तो जीएमटीडी भोपाल को सख्त निर्देश दिए जाएं कि वे नियम विरुद्ध कार्य न करें। परिमंडल प्रबंधन द्वारा ऐसा न करने से एसएसए में अपनी मर्जी से कार्य शुरू हो जाएगा। इस पर रोक जरूरी है।

पत्र में यह भी स्पष्ट किया गया है कि विगत दिनों प्रबन्धन व यूनियन के संबंधों में निर्मित कड़वाहट जैसे तैसे कम होती प्रतीत हो रही है किंतु परिमंडल में कुछ ऐसे तत्व हैं जो इससे खुश नहीं है।

पत्र डाऊनलोड कीजिए 

भारी बारिश के बावजूद भूख हड़ताल में दिखा जबर्दस्त उत्साह... परिमंडल में सफल रही भूख हड़ताल

चार सूत्रीय मांगों को लेकर चल रहे देशव्यापी आन्दोलन के द्वितीय चरण में देश भर में भूख हड़ताल उत्साह के साथ संपन्न हुई। परिमंडल में कई स्थानों पर भारी बारिश के बावजूद कर्मचारी अधिकारी पूर्ण उत्साह व जोश के साथ शामिल हुए। भोजन अवकाश में हुए प्रदर्शन में असंख्य कर्मचारी अधिकारी उपस्थित रहे।

भूख हड़ताल व हड़ताल का आव्हान करने वाले सभी यूनियन व एसोसिएशन के शाखा, जिला एवं परिमंडल पदाधिकारियों का हड़ताल को सफल बनाने हेतु आभार। एनएफटीई, सेवा बीएसएनएल के नेतृत्वकर्ता भी प्रदर्शन में शामिल हुए, कॉम हबीब खान, सीएस, एनएफटीई सर्किल ऑफिस में हुए प्रदर्शन में उपस्थित रहे, सभी का शुक्रिया।

डाऊनलोड कीजिए

मंदसौर      नरसिंहपुर      धार      शाजापुर      शिवपुरी      देवास      उज्जैन      बालाघाट      छतरपुर      रायसेन      छिंदवाड़ा      सिवनी      सतना      भोपाल CO      इन्दौर      भाेपाल GMTD      होशंगाबाद      रीवा      सीधी      राजगढ ब्यावरा      पन्ना      गुना      शहडोल      जबलपुर      खंडवा      सागर     

रिटायर्ड साथियों के संगठन AIBDPA का भी आंदोलन को समर्थन

रिटायर्ड साथियों के संगठन AIBDPA के परिमंडल सचिव कॉम एच एस ठाकुर ने भी 13 जुलाई की भूूूख हड़ताल और 27 जुलाई की पूर्ण हड़ताल का समर्थन किया है। उन्होंने सभी रिटायर्ड साथियों से अपील की हैै कि वें भी भूख हड़ताल में शामिल हों और 27 जुलाई की हड़ताल की सफलता हेतु अपनी सक्रिय भूमिका का निर्वहन करें।

ज्ञातव्य है कि यूनियन्स एवं एसोसिएशन्स द्वारा दिए गए  आंदोलन के नोटिस में पेंशन रिवीजन का मुद्दा भी शामिल है।

परिमंडल यूनियन की ओरसे AIBDPA का आभार...

कॉम अघानुसिंह मार्को की पोस्टिंग जबलपुर में करने हेतु प्रबंधन को पत्र

यूनियन द्वारा एक लंबी लड़ाई के बाद हमारे एससी एसटी साथियों का रिजल्ट रिव्यु किया गया था। फलस्वरूप हमारे 3 साथी टीटी से जे ई बने। ट्रेनिंग पश्चात इन 3 साथियों में से 2 को तो अपने पैरेंट यूनिट में पोस्टिंग दी गयी है किंतु जबलपुर के हमारे सहयोगी कॉम अघानुसिंह मार्को को सिवनी एसएसए के छपरा गांव में पोस्ट किया गया है। संघर्षों के बाद प्राप्त प्रमोशन कॉम मार्को के लिए जबलपुर से बाहर पोस्टिंग होने से परेशानी का सबब बन गया है। जबकि अभी तक जितने भी कर्मचारी LDCE के माध्यम से जे ई बने हैं उन्हें पैरेंट यूनिट ही अलॉट किया गया है। आरक्षित वर्ग के हमारे सहयोगी अपने प्रयासों से अपने भविष्य को संवारने के प्रयास कर रहे हैं, किन्तु परिमंडल प्रबंधन द्वारा की गई कार्यवाही से उनके सपनों पर कुठाराघात हुआ है।

उपर्युक्त मुद्दों को रेखांकित करते हुए परिमंडल सचिव कॉम प्रकाश शर्मा ने मुख्य महाप्रबंधक को पत्र लिख कर कॉम मार्को को न्याय दिलाने का अनुरोध किया है।

डाऊनलोड कीजिए

रूल 8 ट्रांसफर में हो रही देरी के मद्देनजर प्रबंधन को पत्र

बीएसएनएल ईयू द्वारा परिमंडल स्तर पर विभिन्न मांगों को लेकर तीन चरणों मे आंदोलन किया गया था। आंदोलन के पूर्व एवं पश्चात हुई मीटिंग में हमारे द्वारा प्रस्तुत मुद्दों पर विस्तार से चर्चाएं हुई और अधिकांश मुद्दों पर सकारात्मक कार्यवाही भी हो चुकी है, हो रही है। किन्तु रूल 8 ट्रांसफर आदेश अभी तक जारी नही होने से कर्मचारियों में रोष है। विभिन्न केडर की प्रतीक्षा सूची विसंगतिपूर्ण होने से इसमे कुछ विलम्ब लाज़मी जरूर था किंतु रूल 8 के आदेश जारी करने में अब अनावश्यक देरी प्रबंधन द्वारा की जा रही है। जबकि दिनांक 29 जून 2017 को जॉइंट जीएम एच आर के साथ सम्पन्न बैठक में परिमंडल सचिव कॉम प्रकाश शर्मा को आश्वस्त किया गया था कि प्रतीक्षा सूची में वांछित सुधार हो चुका है और शीघ्र आदेश जारी किए जाएंगे। किन्तु आदेश जारी नही हुए हैं।

विलंब के चलते परिमंडल सचिव ने मुख्य महाप्रबंधक महोदय का पत्र के माध्यम से इस ओर ध्यान आकर्षित करते हुए आदेश अविलंब जारी करने की मांग की है।

मुख्य महाप्रबंधक महोदय को लिखे पत्र में अन्य समस्याओं का संतोषजनक समाधान करने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया गया है। सफाई व्यवस्था में पूर्ण रूप से तो नही, किन्तु काफी हद तक सुधार परिलक्षित हो रहा है। हालांकि इसकी निरंतर रूप से मॉनिटरिंग जरूरी है। परिमंडल से विशेष अधिकारियों को स्वच्छता अभियान  एवं मूलभूत सुविधाओं की स्थिति जानने के लिए विभिन्न एसएसए में डेप्यूट किया गया है। जिला सचिव भी इस संबंध में शिथिलता नज़र आने पर अपने एसएसए प्रमुखों के संज्ञान में लावें।

उम्मीद है रूल 8 अंतर्गत ट्रांसफर आदेश शीघ्र जारी होंगे।

डाऊनलोड कीजिए...

आल इंडिया बीएसएनएल वर्किंग वीमेन्स कोऑर्डिनेशन कमीटी गठित

9 जून 2017 से 11 जून 2017 तक त्रिवेंद्रम में सम्पन्न सेंट्रल एग्जीक्यूटिव कमीटी की मीटिंग में  "आल इंडिया बीएसएनएल वर्किंग वीमेन्स कोऑर्डिनेशन कमीटी " गठित करने का निर्णय लिया गया था और गठन की रूपरेखा भी तय की गई थी। तदनुसार हैदराबाद में सम्पन्न महिला कन्वेंशन में निम्न कमीटी का गठन किया गया।

Convenor :   Com. P. Indira, Tamil Nadu.

Joint Convenors:       
1) Com. Bhagyalakshmi, Kerala.
2) Com. Banani Chattopadyaya, West Bengal.
3) Com. Sunithi Choudhary, Bihar.

Committee Members:
1) Com. Sharmila Dutta, Kolkata.
2) Com. Niruben Solanki, Gujarat.
3) Com. Meena Choradia, Madhya Pradesh.
4) Com. D. A. Shylla, North East-1
5) Com. C.H.Vanasri, Telengana.
6) Com. Rama Devi, Andhra Pradesh.
7) Com.Sukhpreet Kaur, Punjab.
8) Com. Jyotsana Mokashi, Maharashtra.
9) Com. Latha Kamalakar, Karnataka.
10) Com. V. Latha, Chennai.
11) Com. Chandra Prabha Muchhal, Haryana.
12) Com. Maya Verma, UP(East).
13) Com. Urmila Nagvanshi, TF, Jabalpur

मध्यप्रदेश परिमंडल से कॉम मीना चोरडिया को भी शामिल किया गया।

बीएसएनएल ईयू, मध्यप्रदेश परिमंडल की ओरसे बधाई..!

अमरनाथ यात्रियों पर बर्बर आतंकी हमले की बीएसएनएल ईयू द्वारा कड़ी भर्त्सना

अमरनाथ से लौट रही बस में सवार तीर्थ यात्रियों पर अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने अंधाधुन्द गोलियां बरसाई जिससे 7 तीर्थयात्री मारे गए और 19 जख्मी हुए। बीएसएनएल ईयू के महासचिव कॉम पी अभिमन्यु ने इस कायराना हमले और तीर्थयात्रियों की नृशंस हत्या की कड़ी भर्त्सना करते हुए आतंकवादियों के हमले के शिकार निर्दोषों को श्रद्धान्जलि अर्पित की है। साथ ही घायल यात्रियों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। जम्मू कश्मीर के बीएसएनएल ईयू के सर्किल सेक्रेटरी कॉम बशीर अहमद खान ने भी इस हमले की निंदा की है। इस हमले से यह तो स्पष्ट हो गया है कि अमरनाथ यात्रा पर जाने वाले यात्री पूर्ण रूप से सुरक्षित नही है। केंद्र सरकार द्वारा अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा के लिए और पुख्ता इंतजाम करने की जरूरत है।

बीएसएनएल ईयू, मध्यप्रदेश परिमंडल भी उक्त आतंकवादी हमले में दिवंगत निर्दोष तीर्थ यात्रियों को श्रद्धान्जलि अर्पित करता है।

स्पेशल सीएल हेतु पत्र जारी

परिमंडल प्रबंधन द्वारा 15 जुलाई 2017 की विस्तारित सीईसी एवं सेमिनार के लिए स्पेशल सीएल स्वीकृत करने हेतु पत्र जारी कर दिया गया है।

डाऊनलोड कीजिए

एक दिवसीय भूख हड़ताल... 13 जुलाई 2017 को

4 सूत्रीय डिमांड्स को लेकर आंदोलन के प्रथम चरण में  20 जून 2017 को हम सफलता पूर्वक धरना आयोजित कर चुके हैं।

द्वितीय चरण में बीएसएनएल ईयू के साथ अन्य 7 संगठनों द्वारा 13 जुलाई 2017 को भूख हड़ताल का आव्हान किया गया है। सभी जिला सचिवों से आग्रह है कि सहयोगी संगठनों के साथ मीटिंग लेकर भूख हड़ताल को सफल बनावें। भोजन अवकाश में विरोध प्रदर्शन भी करें।

15 जुलाई 2017 को भोपाल में सीईसी भी होना है। अपने साथियों के साथ भोपाल पहुंचें, यह निवेदन। हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष कॉम बलबीर सिंह हड़ताल के मुद्दों पर विस्तृत रूप से जानकारी देने हेतु विशेष रूप से भोपाल आ रहे हैं।

आने वाले दिन संघर्ष पूर्ण है, हमे लड़ना है और जीतना भी है। हम जरूर कामयाब होंगे, हमेशा की तरह।

हमारी एकता ज़िंदाबाद...
संयुक्त संघर्ष जिंदाबाद...

प्रथम आल इंडिया बीएसएनएल वर्किंग वुमेन्स कन्वेंशन हैदराबाद में सम्पन्न... मध्यप्रदेश परिमंडल से भी उत्साहपूर्ण भागीदारी

बीएसएनएल एम्प्लाइज यूनियन का प्रथम आल इंडिया बीएसएनएल वर्किंग वुमेन्स कन्वेंशन हैदराबाद में उत्साह के साथ सम्पन्न हुआ। देश के कोने कोने से आई महिला साथियों ने कन्वेंशन में उत्साहपूर्ण शिरकत की। कन्वेंशन की अध्यक्षता कॉम बलबीर सिंह ने की। हैदराबाद के पोट्टी श्रीरामुलु तेलुगु यूनिवर्सिटी के महिला डेलीगेट्स से खचाखच भरे सभागार में सीटू की राष्ट्रीय अध्यक्ष कॉम के हेमलता ने बदलते सामाजिक और आर्थिक परिदृश्य में कामकाजी महिलाओं की समस्याओं पर विस्तार से अपनी बात रखते हुए महिलाओं की ट्रेड यूनियन में भूमिका पर भी प्रकाश डाला। कॉम पी अभिमन्यु, महासचिव, बीएसएनएल ईयू ने अपने की-नोट उद्बोधन में बीएसएनएल के उत्थान में महिलाओं की सहभागिता, उनकी विभिन्न समस्याएं, ट्रेड यूनियन में उनकी महत्ता व उपयोगिता आदि पर अपने विचार रखे। स्वागत समिति के महासचिव व तेलंगाना सर्किल के सर्किल सेक्रेटरी कॉम जे संपथ राव ने स्वागत किया।

मध्यप्रदेश परिमंडल से कुल 16 महिला कॉमरेड्स ने कन्वेंशन में हिस्सा लिया। इनमे से 11 उज्जैन से, 3 इंदौर से एवं 2 जबलपुर से महिला साथी कन्वेंशन में शामिल हुई। सभी महिला कॉमरेड्स ने अनुशासन के साथ कन्वेंशन में अपनी गरिमामय उपस्थिति दर्ज की। परिमंडल की ओरसे कॉम मीना चोरडिया, परिमंडल संगठन सचिव ने उद्बोधित किया जिसकी सभी ने प्रशंसा व सराहना की। कॉम मीना चोरडिया को राष्ट्रीय समन्वय समिति में सदस्य के रूप में शामिल किया गया। परिमंडल की ओरसे बधाई।

इस शानदार आयोजन में परिमंडल सचिव कॉम प्रकाश शर्मा भी उपस्थित थे। तेलंगाना के साथियों ने अपने प्रयासों से कन्वेंशन को उत्कृष्ट और यादगार बना दिया। हमारे परिमंडल की ओरसे कॉम पी असोकाबाबू और कॉम जे संपथ राव एवं उनकी टीम का आभार।

चित्रमय झलकियां डाउनलोड कीजिए

1-7-2017 से IDA 119% मिलेगा... बधाई

कॉर्पोरेट ऑफिस द्वारा 1.7.2017 से संशोधित IDA के DPE द्वारा जारी आदेश एंडोर्स कर दिए हैं। 1.7.2017 से मूल वेतन पर 119% IDA मिलेगा।

डाउनलोड कीजिए